If you need information about home loan business loan education loan credit card bike insurance car insurance then read here #homeloan #insurance #businessloan #personalloan
Sunday, July 3, 2022
HomeSEODA PA Kaise Badhaye (domain authority )| DA PA Kya Hota Hai...

DA PA Kaise Badhaye (domain authority )| DA PA Kya Hota Hai DA PA काGoogle Mein Kya Effect पडता है

DA PA Kaise Badhaye (domain authority) हैलो फ्रेंड्स, मैं हूँ Abhishek Tiwari और वेलकम है। आपका मेरे blog में मेरे पास बहुत कमेंट्स आते है कि भाई DA और PA क्या होता है? इसे गूगल की रैंकिंग में हमें क्या इफ़ेक्ट पड़ सकता है? एससीओ (SEO)में क्या इफ़ेक्ट पड़ सकता है?

 

 

Advertisement

DA PA Kaise Badhaye

 

DA (domain authority Kaise Badhaye) को कैसे इन्क्रीज़ करें? इस तरह के काफी सारे मेरे पास questions आते रहते है। तो मैने सोचा क्यों ना इसके ऊपर एक आर्टिकल लिख दूँ जिससे सबके लिए समझना बहुत इजी हो जाएगा।

Advertisement

कन्फ्यूजन बहुत ज्यादा है तो क्लियर होना भी बहुत जरूरी है और मेरी कोशीश हमेशा यही रहती है कि मेरे मेरे ब्लॉग से आपको राइट इन्फॉर्मेशन मिले और आपको आने वाले टाइम में उसका अच्छा रिज़ल्ट मिले और उससे पहले अगर आपने मेरे blog को सबस्क्राइब नहीं करा तो सब्स्क्राइब के बटन पर email डाल के क्लिक करें और इस ब्लॉग को subscribe कर ले मैं हूँ Abhishek Tiwari और स्वागत है आपका मेरे website में सबसे पहले मैं आपको ये बताता हूँ की ये होता क्या है ।

 

 

Advertisement

 

 

 

Advertisement

 

 

 

Advertisement

 

DA PA Kya Hota Hai ?domain authority

 

Advertisement

DA का मतलब होता है डोमेन अथॉरिटी domain authority । इससे आप अपनी वेबसाइट का जो डोमेन नेम होता है और जो शब्दों में होता है उसको आप इन्क्रीज़ कर सकते हैं। और PA का मतलब होता है पेज अथॉरिटी आप अपनी वेबसाइट के अंदर पर्टिकुलर कोई भी पेज क्रियेट करते तो उसकी अथॉरिटी बढ़ा सकते हैं। गूगल में रैंक करने के तो बहुत सारे फैक्टर होते हैं। पर आज मैं इसपे बात नहीं करूँगा, पर हाँ, एक पॉइंट मैं आपको बता देता हूँ कि गूगल का DA (domain authority) ,PA (page authority) से कोई लेना देना बिल्कुल भी नहीं है।

 

DA मतलब डोमेन अथॉरिटी और PA मतलब पेज अथॉरिटी इस चीज़ का जरूर ध्यान रखना मैं DA को ही ज्यादा यूज़ करूँगा। गूगल का DA और PA से ज्यादा कुछ भी लेना देना नहीं है। क्योंकि DA और PA को moz ने डेवलप करा है। Moz के बारे में आप सब जानते होंगे। बहुत अच्छा tool है। Moz का paid and free tool दोनों है और इनका गूगल क्रोम की एक्सटेंशन भी है जो आप में से काफी लोग यूज़ करते होंगे।

Advertisement

 

 

जो DA PA check करते है वो जानते हैं da चेक करने के लिए अगर इंस्टॉल करें तो आप चेक करके अपने कॉम्पिटिटर का DA चेक कर सकते हैं। गूगल को तो पता भी नहीं है कि DA PA होता क्या है क्योंकि उस की कैलकुलेशन में इसकी कोई वैल्यू नहीं है और DA और PA को कैलकुलेट करने के लिए फ्रेन्ड ज़ीरो से लेके 100 तक का रेश्यो दी गई है।

Advertisement

Moz की तरफ से मतलब जीतने ज्यादा नंबर दोगे। उतना अच्छा होगा जैसे हमारे स्कूल में होता है, जितनी ज्यादा परसेंटेज होती है उतना हम नंबर वन होते है, ठीक वैसे ही जीरो से लेकर 100 तक ही रेश्यो है। उसके बीच में आपके ऊपर डिपेंड करते है। आप भी DA कैसे इन्क्रीज़ करें और PA को कैसे इन्क्रीज़ करें इन्क्रीज़ करने के भी फैक्टर बताऊँगा और ये चीज़ आप दिमाग में अच्छी तरह बिठा लो। गूगल का इससे कुछ भी लेना देना नहीं है।

 

 

Advertisement

 

जैसे मैं पहले बता चूका हूँ, इसे moz ने डेवलप करा है। अगर आप अपने DA को बढ़ाना चाहते हैं, डोमेन की अथॉरिटी को बढ़ाना चाहते हैं तो फ्रेंड आपको अपने कॉम्पिटिटर को पहले तो फाइंड करना पड़ेगा। कॉंपिटिटर का DA कितना है?

 

Advertisement

फॉर एग्ज़ैम्पल 60 है तो आपको अपनी वेबसाइट का डीए 60 से ज्यादा करना पड़ेगा तभी आपकी वेबसाइट की वैल्यू ज्यादा मानी जाएगी और अगर आपकी वेबसाइट की वैल्यू ऑलरेडी 60 है तो आपको ये शांति है कि मेरा इतना अच्छा हो चुका है हो सकता है। आपका जो कॉंपिटिटर है उसका da 60 से ज्यादा हो और आपने वो चेक नहीं करा तो आप इसमें रिलैक्स मत रहना कि मेरा 60 है, काफी अच्छा है।

 

 

Advertisement

 

मैं आगे धीरे धीरे बढ़ता रहूंगा। अगर आप अपनी वेबसाइट की वैल्यू बढ़ाना चाहते हैं तो अपने कॉम्पिटिटर पे ज्यादा नजर रखें। वहीं से आपको अपना कॉम्पिटिशन का लेवल समझ आएगा और वहीं से आपको ये बात भी समझ आएगी कि जो 60 आपका DA (domain authority) हैं बहुत कम है उसके ऊपर अभी आपने और काम करना है जो आपको अपने कॉम्पिटिटर को ऑडिट करना है।

 

Advertisement

कुछ ठीक ऐसे ही किसी भी पर्टिकुलर पेज को आप बढ़ाना चाहते हैं। उसकी पीए को इन्क्रीज़ करना चाहते हैं तो सेम वैसे ही उस कीवर्ड के ऊपर किन किन लोगों ने आर्टिकल लिखा है और उनका PA कितना है आप उनका ये देखे उसके बाद आप अपनी वेबसाइट के पीए को इन्क्रीज़ करें। अब आपके दिमाग में क्वेश्चन आ रहा होगा कि क्या DA SEO में इफ़ेक्ट करता है?

 

 

Advertisement

 

क्या DA SEO में इफ़ेक्ट करता है? DA PA Kaise Badhaye

 

फ्रेंड SEO में आप on page SEO करे और जो off page SEO होता है वहाँ पे ये मैटर करेगा क्योंकि DA और PA को बढ़ाने के लिए आपको और off page SEO करना पड़ेगा। off page SEO में आप को लिंक बिल्डिंग करनी पड़ेगी। मतलब backlinks क्रिएट करो, guest post करो और ऐसी वेबसाइट पे करो जिनका ऑलरेडी DA ,PA काफी अच्छा है तो वहाँ से आपकी वेब साइट को प्रॉफिट होगा, benifit मिलेगा, DA और PA उनका ऑटोमैटिकली इन्क्रीज़ होता रहेगा। अगर आपकी वेबसाइट से रिलेटेड दूसरी वेबसाइट से आपको बैटिंग मिल रहे हैं, आपको गेस्ट पोस्ट ऑप्शन मिल रही है तो उधर फ्रेंड आप जरूर करें चाहे आपको स्टार्टिंग में कुछ पैसे देने पड़े।

Advertisement

अगर आप इन्वेस्ट कर सकते हैं तो यही एक तरीका होता है डीए और पीए को इन्क्रीज़ करने का आपने अपनी वेबसाइट की अथॉरिटी बढ़ानी है, डोमेन अथॉरिटी बढ़ानी है, तो आप जहाँ पे भी गेस्ट पोस्टिंग कर रहे हो कहीं पे भी लिंक दे रहे हो तो वहाँ पे आप अपनी वेबसाइट का लिंक दोगे। फॉर एग्ज़ैम्पल जो मेरी वेबसाइट है

 

 

Advertisement

www.cyberyukti.com ये मेरा DA है। और इसके अन्दर मैने कोई भी पेज बना रखा है फॉर एग्ज़ैम्पल मैने अभी पिछले दिनों कीवर्ड के ऊपर एक पेज बनाया था जिसकी लिस्ट मैने आपको प्रोवाइड करी थी।

अगर मैं उस पेज को उसको कहते हैं page authority अगर मैं उसको इन्क्रीज़ करना चाहता हूँ, उस पेज का लिंक मैं कॉपी करूँगा और जहाँ पे भी मुझे backlinks क्रिएट करना है, गेस्ट पोस्टिंग क्रिएट करनी है, मैं उस लिंक को वहाँ पे ऐड कर दूंगा। यही एक तरीका होता है फ्रेंड आपको डीए बढ़ाने के लिए अपना डोमेन नाम कॉपी करना है और जहाँ भी आप गेस्ट पोस्टिंग करेंगे उसके बीच में कही पे भी मैं CyberYukti.com लिखूंगा।

 

Advertisement

 

 

उस में अपना लिंक दे दूंगा। अपनी वेबसाइट का वो मेरा DA होगा गया और अगर मैने कोई SEO के ऊपर पेज बनाएँ और मैं कही गेस्ट पोस्टिंग कर रहा हूँ और वहाँ पे मैं वर्ड लिख दूंगा SEO क्योंकि वहा पे मैं पोस्ट भी SEO से रिलेटेड लिखूंगा और जैसे मैं SEO लिखूंगा या search engine optimization लिखूंगा, उसको हाइलाइट करके अपने उस पेज का लिंक में वहाँ पे दूंगा उससे मेरा PA इन्क्रीज़ होगा। कहने का मतलब मैं कम से कम 50 वेबसाइट में हाई अथॉरिटी वेबसाइट के अंदर जिनका DA ,PA अच्छा है, उधर में गेस्ट पोस्टिंग करे जा रहा हूँ।

Advertisement

 

अलग अलग आर्टिकल्स लिखे जा रहे हो और सब में अपने एक ही पेज का लिंक दे रहा हूँ तो मेरे 50 बैकलिंक high authority वेबसाइट के अंदर क्रिएट हो चूके हैं, जिससे मेरा PA इन्क्रीज़ हो गया और सेम यही फंडा है DA को इन्क्रीज़ कर देगा डोमेन मेरा है

 

Advertisement

 

 

www.CyberYukti.com url मैने कॉपी करा 50 वेबसाइट में गया गेस्ट पोस्टिंग करी और वहा पे CyberYukti में जरूर कही गेस्ट पोस्ट के अंदर ऐड करूँगा फिर वहा पर मैं उसका लिंक दे दूंगा। 50 वेबसाइट में मेरा DA चला गया। वो सारी high authority वेबसाइट थी तो मेरा DA ऑटोमेटिकली इन्क्रीज़ हो गया।

Advertisement

 

यही एक सिंपल तरीका होता है और इसी तरीके से ही आप अपने DA और PA को इन्क्रीज़ कर सकते हैं और moz भाई साहब हमारे यही देख के खुश हो जाएंगे और वो आपको रैंकिंग देना शुरू कर देंगे। जीरो से लेके 100 तक

 

Advertisement

 

 

Final word

 

Advertisement

आई होप आपकी DA ,PA के सारे डाउट्स क्लियर हो गए होंगे। इससे ज्यादा इसमें कोई रॉकेट साइंस नहीं है कि मैं इस को लंबा खींच और डिटेल्स में बताऊँ। सिर्फ अगर आप इतना ही पॉइंट समझ गया तो आपके लिए इनफ़ है। अगर आपने अभी तक मेरे blog को सबस्क्राइब नहीं करा तो सब्सक्राइब करें और पोस्ट को शेयर करें। ऐसे ही इंटरेस्टिंग टॉपिक के साथ मैं आपको फिर से बहुत जल्दी मिलने वाला हूँ। तब तक के लिए जयहिंद जय भारत। ——————————————————————————–

RELATED ARTICLES

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

x