वर्ड प्रोसेसिंग क्या है ? (Word Processing) – Word Processing विशेषताये तथा उसके Area of use

वर्ड प्रोसेसिंग क्या हैं(Word Processing)

वर्ड प्रोसेसिंग क्या है ?  वर्ड प्रोसेसर एक अन्य सॉफ्टवेयर पैकेज की तरह है। यह हमें सुन्दर तरीके से लेखन लिखने, एडिट

वर्ड प्रोसेसिंग क्या है
वर्ड प्रोसेसिंग क्या है

तथा प्रिन्ट करने में सहायता करता है। अपने घर या ऑफिस में वर्ड प्रोसेसर की सुविधा के साथ हमें पेन्सिल या पैन उपयोग करने की आवश्यकता
नहीं होती।

हम अपना इच्छित टेक्स्ट टाइप कर सकते हैं, उसे विभिन्न रंगों में फार्मेट, विभिन्न फोन्ट, ग्राफिक्स, एनिमेशन तथा अन्य फीचर्स के साथ सुसज्जित कर सकते हैं। अपना कार्य पूरा करने के बाद हम इसे या तो पेपर पर प्रिन्ट कर सकते हैं या ई-मेल द्वारा निश्चित स्थान पर भेज
सकते हैं अथवा स्टोरेज डिवाइस पर स्टोर कर सकते हैं।

MS-Word की विभिन्न विशेषताये तथा उसके Area of use

वर्ड प्रोसेसिंग क्या है ? word processing kya hai ? वर्ड प्रोसेसर की विशेषताएँ (Features of Electronicword-Processor) – वर्ड प्रोसेसर विशिष्ट विधियों से हमारी सहायता करता है। इसकी
विशेषताएँ निम्नलिखित हैं-

. वर्ड रैप (Word Wrap) जब हम कुछ लिखते हैं तो लाइन समाप्त होने के बाद हमें स्वयं ही लाइन बदलना होती है। इलेक्ट्रॉनिक वर्ड
प्रोसेसर ऐसी सुविधा प्रदान करता है कि हमें लाइन बदलने की आवश्यकता नहीं होती। लाइन समाप्त होते ही यह स्वत: हमारे कर्सर को दूसरी
लाइन पर ले आता है। इसे हम वर्ड रैप (Word Wrap) कहते हैं।

टैक्स्ट का संपादन (Editing of Text) – वर्ड प्रोसेसर में टैक्स्ट टाइप करते हुए हम अगर कोई गलती कर देते हैं तो उसका सुधार
स्क्रीन पर देखकर कर सकते हैं। यह सुविधा मानवीय या टाइपराइटर के द्वारा सम्भव नहीं थी।

पृष्ठ की फॉर्मेटिंग (Page Formatting) – किसी भी वर्ड प्रोसेसर में हम कम्प्यूटर को अपने द्वारा प्रयोग किये जा रहे पृष्ठ की जानकारी
दे सकते हैं। इसके चारो ओर हम मार्जिन margin भी निर्धारित कर सकते हैं। ऐसा करने से स्वत: ही कम्प्यूटर उसी क्षेत्र विशेष के अंदर
टाइप करेगा जिसका निर्धारण किया गया है। पृष्ठ फॉर्मेटिंग के समय हम पृष्ठ को आकर्षक बनाने के लिए बार्डर या शेडिंग दे सकते हैं एवं
आवश्यकतानुसार पृष्ठ क्रमांक, हैडर, फूटर, एण्डनोट इत्यादि भी डाल सकते हैं।

पैराग्राफ की फॉर्मेटिंग (Paragraph Formatting) – पैराग्राफ की शुरुआत का स्थान, उसमे लाइन स्पेसिंग (दो लाइन के मध्य की दूरी)
तथा पैराग्राफों के मध्य रिक्त स्थान हम निर्धारित कर सकते हैं।

टैक्स्ट की फॉर्मेटिंग (Text Formatting) – किसी भी वर्ड प्रोसेसर में टैक्स्ट की फॉर्मेटिंग के लिए पर्याप्त सुविधाएं, जैसे उसका आकार
बदलना, रेखांकित (Underline) करना, बोल्ड (Bold), इटैलिक (italics), रंगीन बनाना, तिरछा बनाना उपलब्ध होती हैं।

कार्य को सुरक्षित करना तथा पुन: प्रयोग करना (Saving and Retrieving the Work) किसी भी वर्ड प्रोसेसर में किये कार्यों को
हम सुरक्षित कर सकते हैं एवं आवश्यकतानुसार दोबारा प्रयोग में ला सकते हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.